Mobile Number Port SMS Facility SIM Card Portability port number sms SSND

Spread the love

[ad_1]

Mobile Number Port Kaise Kare: टेलीकॉम कंपनियां आए दिन अपने टैरिफ चार्ज बढ़ा रही हैं. दाम बढ़ने के साथ-साथ कंपनियों की सर्विस में लगातार गिरावट आ रही हैं. जब आप कोई नया प्लान या नया नंबर लेने जाते हैं तो टेलीकॉम कंपनियां तमाम सुविधाएं देने के लंबे-चौड़े दावे करते हैं, लेकिन जब आप किसी सर्विस के बारे में शिकायत करने जाते हैं तो कंपनियों के स्टाफ का व्यवहार एकदम बदल जाता है.

इन तमाम दिक्कतों से आजिज़ आ कर लोग अपना नंबर पोर्ट कराकर किसी और टेलीकॉम कंपनी (telecom operator) की सेवाएं ले सकते हैं. अब आप अपने मोबाइल नंबर से एक एसएमएस करके अपना नंबर पोर्ट करा सकते हैं.

अगर आप किसी दूसरे टेलीकॉम ऑपरेटर के सस्ते प्लान का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप आसानी से अपना नंबर पोर्ट कर सकते हैं. नंबर पोर्ट करने का फायदा यह होता है कि आप अपना नंबर बदले बिना ही वर्तमान टेलीकॉम कंपनी को बदल कर नई कंपनी की सेवाएं ले सकते हैं. इस पूरी प्रक्रिया में केवल आपका सिम कार्ड बदला जाएगा. आप घर बैठे ही अपना सिम कार्ड पोर्ट करा सकते हैं.

यह भी पढ़ें- Oppo Reno 7 5G स्मार्टफोन की बुकिंग शुरू, मिल रहा है कैशबैक और डिस्काउंट

क्या है पोर्टेबिलिटी सुविधा
मोबाइल नंबर पोर्ट कराने की सुविधा 2009 में शुरू की गई थी. इस सुविधा के तहत आप 1900 नंबर पर एक मैसेज भेजकर अपना नंबर पोर्ट करा सकते हैं.

पिछले दिनों TRAI ने टेलीकॉम कंपनियों को पोर्टेबिलिटी को लेकर कड़ा संदेश दिया था. TRAI ने कुछ ‘प्रीपेड वाउचर’ में ‘आउटगोइंग एसएमएस’ सुविधा प्रदान नहीं करने वाली दूरसंचार सर्विस मुहैया कराने वाली कंपनियों पर भी कड़ा ऐतराज जताया था.

TRAI को यूजर्स ग्राहकों से शिकायतें मिली थी कि वे अपने प्रीपेड खातों में पर्याप्त राशि होने के बावजूद ‘मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी’ सुविधा का लाभ उठाने के लिए यूपीसी (यूनिक पोर्टिंग कोड) सृजित करने के लिए निर्धारित नंबर 1900 पर एसएमएस भेजने नहीं पा रहे हैं.

यह भी पढ़ें- आ रहा है गेमिंग फीचर्स के साथ धांसू स्मार्टफोन Asus ROG Phone 5s, इस दिन होगा लॉन्च

TRAI ने अपने संदेश में कहा था- सभी सेवाप्रदाताओं को निर्देश दिया जाता है कि वे दूरसंचार मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी नियमन, 2009 के तहत प्रीपेड और पोस्टपेड दोनों श्रेणी के मोबाइल फोन ग्राहकों को मोबाइल फोन पोर्टेबिलिटी की सुविधा के लिये 1900 पर यूपीसी को लेकर एसएमएस भेजने की सुविधा दें. यह सुविधा सभी ग्राहकों को मिलनी चाहिए, भले ही वे कितने भी मूल्य का वाउचर क्यों नहीं इस्तेमाल कर रहे हों.

कैसे करें सिम कार्ड पोर्ट
सिम कार्ड पोर्ट कराने के लिए मोबाइल नंबर से 1900 नंबर पर SMS भेजना होगा. आप PORT मोबाइल नंबर लिखकर 1900 पर भेज दें. इसके बाद आपके फोन नंबर पर एक यूनिट पोर्टिंग-यपीएस कोड आ जाएगा. यह कोड नंबर 15 दिन तक मान्य होगा. इस कोड नंबर को लेकर अपने पास वाले के उस टेलीकॉम ऑपरेटर के रिटेल स्टोर पर जाएं, जिस कंपनी की सेवाएं आप लेना चाहते हैं. वहां स्टाफ को सिम पोर्ट करने के लिए कहें.

पोर्ट कराने के दौरान आपको आपना अपने साथ पासपोर्ट साइज की फोटो और पहचान प्रमाण कॉपी ले जानी होगी. कागज वेरिफिकेशन पूरा करने के बाद मौजूद सिम बंद हो जाएगी और नई कंपनी की नई सिम मिल जाएगी. इस पूरी प्रक्रिया में लगभग एक सप्ताह तक लग सकता है.

Tags: Mobile Phone, Telecom business

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.