Weak Password list common password strength checker Digital India SSND

Spread the love

[ad_1]

How to Secure Password: डिजिटल दुनिया की चाबी है पासवर्ड. पासवर्ड जितना मजबूत होगा, आप उतने ही महफूज रहेंगे. क्योंकि डिजिटल दुनिया में हैकर्स की नजर हमेशा आप पर लगी रहती है. जरा सी चूक हुई नहीं कि सारा खेल चौपट. इसलिए आपको हर कदम पर अलर्ट किया जाता है कि हमेशा चौकन्ने रहें और जटिल पासवर्ड का इस्तेमाल करें.

लेकिन तमाम चेतावनियों के बाद भी हम सबसे अहम काम ही सबसे सुस्त तरीके से करते हैं. देखने में आया है कि ज्यादातर लोग पासवर्ड तैयार करने में बड़े ही सुस्त होते हैं और बहुत ही आसान सा पासवर्ड बनाते हैं. पासवर्ड पर निगरानी रखने वाली सिक्योरिटी सलूशन कंपनी ‘नॉर्डपास’ (NordPass) की रिपोर्ट बताती है कि हम भारतीय पासवर्ड तैयार करने में बड़े ही आलसी हैं.

आज जब हमारे सभी राज, चाहे वे बैंक अकाउंट हों या फिर ई-मेल याफिर डेबिट-क्रेडिट कार्ड की डिटेल या हमारी निजी जानकारी,,,सब कुछ इस डिजिटल दुनिया में तैर रहा है. साइबर हैकर्स कांटा डालकर हमारी डिटेल हड़पने की जुगत में बैठे हुए हैं. इसके बाद भी हम पासवर्ड के मामले में इतना सुस्त रवैया क्यों अपनाते हैं.

NorPass.Com ने वर्ष 2021 की 200 टॉप कॉमन पासवर्ड (Top 200 Most Common Password) की लिस्ट जारी की है. नॉर्डपास का कहना है कि रिसर्च में पाया है कि लोग साल-दर-साल वही कमजोर पासवर्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं. नॉर्डपास की यह लिस्ट बताती है कि इन कॉमन पासवर्ड को कितनी बार इस्तेमाल किया गया है और इन्हें हैक करने में कितना समय लगता है.

password remover, How to crack password, password strength checker,

(Image- nordpass.com)

यह लिस्ट कई देशों के पासवर्ड की रिसर्च के बाद तैयार की गई है. इनमें बहुत से भारतीय पासवर्ड भी हैं. भारतीय पासवर्ड में ज्यादातर लोग बहुत ही कॉमन नामों का इस्तेमाल करते हैं. इन नामों को वे ई-मेल, बैंक अकाउंट आदि के पासवर्ड के तौर पर इस्तेमाल करते हैं.

यह भी पढ़ें- आपके पास भी होगा चिप वाला पासपोर्ट, जानिए क्या है E-Passport

कमजोर पासवर्ड (Weak Password list)
भारत के कॉमन पासवर्ड में 123456, india123, krishna, India123, sairam, omsairam, jaimatadi, saibaba, ganesh, abhishek, priyanka, tinkle, rajesh, deepak, lakshmi, hanuman, sweety, waheguru, hariom, balaji, jaihanuman, ganesha, godisgreat, sriram, Pankaj, Pradeep, Praveen, Rashmi, Rahul, Rajkumar, Rakesh, Ramesh, Rajesh, Sachin, Sanjay, Sandeep, Suresh, Santosh, Simran, Sandhya, Sunny, Vishal आदि जैसे पासवर्ड शामिल हैं. इस तरह के 200 कॉमन पासवर्ड की लिस्ट नॉर्डपास ने जारी की है.

महज 1 सैकेंड में क्रैक (password cracker)
NordPass ने कॉमन पासवर्ड की लिस्ट जारी करते हुए यह भी बताया है कि यह पासवर्ड कितने लोग इस्तेमाल कर रहे हैं और इसे क्रैक करने में कितना समय लगता है. उदाहरण के लिए पासवर्ड 123456 की ही बात करें तो यह पासवर्ड 25 लाख से भी ज्यादा लोग इस्तेमाल कर रहे हैं और इसे क्रैक करने में महज 1 सैकेंड का समय लगता है.

यह भी पढ़ें- रेलवे स्टेशन पर भी बनवा सकते हैं Aadhaar और PAN Card, शुरू हुई यह सर्विस

iloveyou पासवर्ड को 1 लाख, 6 हजार से ज्यादा लोग इस्तेमाल कर रहे हैं और इस आईलवयू में महज एक सैकेंड में सैंध लगाई जा सकती है. पासवर्ड password को 17 लाख से ज्यादा लोग यूज कर रहे हैं और इसे भी पलक झपकते ही हैक किया जा सकता है.

india123 को करीब 1.26 लाख लोग इस्तेमाल कर रहे हैं. इसे 17 मिनट में क्रैक किया जा सकता है. sairam पासवर्ड को करीब 50 हजार बार इस्तेमाल किया जा रहा है और इस 2 मिनट में हैक कर सकते हैं. jaimatadi को भी 40 हजार से ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है और इसे क्रैक करने में एक दिन का समय लगा.

jaihanuman पासवर्ड को 13 हजार से ज्यादा बार इस्तेमाल किया गया है. लेकिन इसे क्रैक करने में 12 दिन का समय लगा है.

इस लिस्ट में तमाम ऐसे कॉमन पासवर्ड हैं जिन्हें लाखों लोग इस्तेमाल कर रहे हैं और इन्हें चंद सैकेंडों में क्रैक कर दिया गया.

ऐसे पासवर्ड कभी नहीं बनाएं
हम अपना ज्यादातर समय इंटरनेट पर ही बिताते हैं और अपनी निजी जानकारी शेयर करते हैं. ई-मेल आदि में हम अपने तमाम पर्सनल डाक्यूमेंट भी सेव करके रखते हैं. इसलिए ऐसे पासवर्ड कभी भी नहीं बनाने चाहिए जो आपकी निजी जानकारी जैसे नाम, पता या मोबाइल नबंर पर हो. क्योंकि इनका अनुमान लगाना बहुत आसान है.

मजबूत पासवर्ड (Strong Password Generator)
जिस तरह हम अपने अलमारी या तिजोरी की मजबूत चाबी बनवाते हैं और उसे छिपाकर रखते हैं, ठीक इसी तरह पासवर्ड भी मजबूत होना चाहिए और उसे किसी से भी शेयर नहीं करना चाहिए. ऐसा पासवर्ड जिसे कोई भेद न पाए. अच्छा पासवर्ड कम से कम 8 अंकों का होना चाहिए. इन 8 अंकों में छोटे-बड़े अक्षर, नंबर और सिंबर का मिश्रण होना चाहिए.

Tags: Cyber Crime, Digital India

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.